जामिया में हुई हिंसा पर राजनीति गरमाई, मनीष सिसोदिया ने BJP और दिल्ली पुलिस पर लगाए आरोप

1

जामिया में हिंसक प्रदर्शन को लेकर मनीष सिसोदिया ने बीजेपी को निशाने पर लिया

नई दिल्ली:

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को आरोप लगाया कि बीजेपी ने नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ दक्षिणी दिल्ली में एक विरोध प्रदर्शन के दौरान बसों को आग लगाने के लिए पुलिस का इस्तेमाल किया. सिसोदिया ने विरोध स्थल की कुछ तस्वीरें भी ट्विटर पर पोस्ट कीं. उप-मुख्यमंत्री ने हिंदी में एक ट्वीट में भाजपा पर ‘‘गंदी राजनीति'' करने का आरोप लगाते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध के दौरान भड़की हिंसा की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए.

जामिया हिंसा के बाद पुलिस ने कहा- स्थिति नियंत्रण में, कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया

चुनाव में हार के डर से बीजेपी दिल्ली में आग लगवा रही है. AAP किसी भी तरह की हिंसा के ख़िलाफ़ है. ये बीजेपी की घटिया राजनीति है. इस वीडियो में ख़ुद देखें कि किस तरह पुलिस के संरक्षण में आग लगाई जा रही है. https://t.co/IoMfSpPyYD

— Manish Sisodia (@msisodia) December 15, 2019

जामिया विश्वविद्यालय के समीप हिंसा के बाद पैदा हुई स्थिति के मद्देनजर दक्षिणपूर्व दिल्ली के सभी सकूल सोमवार को बंद रहेंगे. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यह घोषणा की. सिसोदिया ने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में जामिया, ओखला, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और मदनपुर खादर समेत दक्षिण पूर्व जिले के इलाकों में सभी सरकारी और निजी स्कूल कल बंद रहेंगे. दिल्ली सरकार ने मौजूदा स्थिति को देखते हुए यह फैसला लिया है.''

जामिया हिंसा : चश्‍मदीद ने NDTV से कहा, जब बसों में आग लगाई गई तब कई यात्री अंदर ही थे

दिल्ली में साउथ ईस्ट जिले में ओखला, जामिया, न्यू फ्रैंड्स कालोनी, मदनपुर खादर क्षेत्र के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल कल बंद रहेंगे.
वर्तमान हालात को देखते हुए दिल्ली सरकार ने स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया है.

— Manish Sisodia (@msisodia) December 15, 2019

टिप्पणियां

गौरतलब है कि संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ हिंसक प्रदर्शनकारियों ने रविवार दोपहर को जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के समीप बसों में आग लगा दी और पुलिस के साथ झड़प की.

Video: जामिया नगर में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन हुआ हिंसक

Source Article