जामिया में हुई घटना के बाद कांग्रेस ने अख्तियार किया आक्रामक रुख, बीजेपी पर साधा निशाना

0

दिल्ली में हुए हिंसक प्रदर्शन पर कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना

नई दिल्ली:

जामिया मिल्लिया इस्लामिया कैंपस में पुलिस कार्रवाई के लिए केंद्र की बीजेपी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कांग्रेस ने रविवार को उस पर देश में शांति बनाए रखने के अपने कर्तव्य को निभाने में नाकाम रहने और असम, त्रिपुरा और मेघालय के बाद दिल्ली तक को जलने के लिए छोड़ देने का आरोप लगाया. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. सी. वेणुगोपाल ने जामिया के छात्रों पर ‘‘बर्बर कार्रवाई'' की निंदा करते हुए ‘‘संयम'' बरतने की अपील की.

जामिया में हुई घटना के बाद दक्षिणपूर्व दिल्ली के स्कूल सोमवार को रहेंगे बंद

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक टि्वटर अकाउंट पर कहा, ‘‘पूर्वोत्तर से लेकर असम, पश्चिम बंगाल और अब दिल्ली में. भाजपा सरकार देश में शांति बनाए रखने का अपना कर्तव्य निभाने में विफल रही. उसे जिम्मेदारी लेनी चाहिए और हमारे देश में शांति बहाल करनी चाहिए.''

From North East to Assam, West Bengal & now in Delhi. The BJP govt has failed at its duty to maintain peace in the nation. They must take responsibility & restore peace in our country.

— Congress (@INCIndia) December 15, 2019

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह पूछा कि क्या पुलिस का जामिया परिसर पुस्तकालय में घुसना और छात्रों की पिटाई करना तथा उन पर आंसू गैस छोड़ना न्यायोचित है. उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली जल रही है, असम, त्रिपुरा और मेघालय जल रहे हैं। बंगाल में हिंसा फैल रही है, गृह मंत्री को पूर्वोत्तर जाने की हिम्मत नहीं है, जापान के प्रधानमंत्री की यात्रा रद्द करनी पड़ी, लेकिन मोदी जी झारखंड में चुनाव प्रचार करके खुश हैं.'उन्होंने कहा, ‘‘जो इसका विरोध करते हैं उन्हें देशद्रोही बताया जाता है और जामिया इसका ताजा उदाहरण है.''

जामिया हिंसा के बाद पुलिस ने कहा- स्थिति नियंत्रण में, कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया

दिल्ली जल रही है,
असम, त्रिपुरा, मेघालय जल रहा है,
बंगाल में हिंसा फैली है,
गृह मंत्री को उत्तरपूर्व जाने की हिम्मत नही,
जापान के PM का दौरा रद्द करना पड़ा,
पर मोदीजी झारखंड में चुनाव प्रचार में मगन हैं।
जो विरोध करे वो देशद्रोही करार।
जामिया इसका ताज़ा उदाहरण है।#CAB2019
1/2

— Randeep Singh Surjewala (@rssurjewala) December 15, 2019

सुरजेवाला ने पूछा, ‘‘क्या यह ठीक है कि भाजपा सरकार जामिया विश्वविद्यालय के पुस्तकालय और छात्रावास में घुस गई और युवाओं पर आंसू गैस छोड़े गये तथा उनकी पिटाई की. क्या छात्र नागरिकता कानून 2019 के खिलाफ प्रदर्शन नहीं कर सकते जो संविधान की आत्मा पर वार है.'' वेणुगोपाल ने ट्वीट किया, ‘‘मैं दिल्ली पुलिस की जामिया के निर्दोष छात्रों पर बर्बर कार्रवाई की कड़ी निंदा करता हूं. मैं सभी से संयम एवं शांति बरतने की अपील करता हू.''

जामिया हिंसा : चश्‍मदीद ने NDTV से कहा, जब बसों में आग लगाई गई तब कई यात्री अंदर ही थे

I strongly condemn the brutal crackdown on the innocent students of Jamia by #DelhiPolice. I appeal everyone to maintain restraint & peace. @ArvindKejriwal & MHA must intervene to resolve the crisis in Jamia in a cordial manner.

— K C Venugopal (@kcvenugopalmp) December 15, 2019

टिप्पणियां

उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से स्थिति में हस्तक्षेप करने और ‘‘इस संकट को हल'' करने की भी अपील की. कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘अरविंद केजरीवाल और गृह मंत्रालय को सौहार्द्रपूर्ण तरीके से जामिया में संकट को हल करने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए.''

Video: जामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों पर पुलिस के लाठीचार्ज का Video आया सामने

Source Article