चुनाव से पहले CM शिवराज ने किया ऐलान, मध्यप्रदेश में बनेगा गौ मंत्रालय

12
- Advertisement -

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान. (फाइल फोटो)

छतरपुर (मध्य प्रदेश) : मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य में गौरक्षा और संवर्धन के लिए स्वतंत्र गौ मंत्रालय बनाने की घोषणा की है. वर्तमान में राज्य में गौ-संवर्धन बोर्ड है, और अब इसके स्थान पर मंत्रालय होगा. तीन महीने बाद राज्य में विधानसभा चुनाव होना है. मुख्यमंत्री ने रविवार को खजुराहो में 'आचार्य विद्यासागर जीव दया सम्मान समारोह' में कहा कि प्रत्येक घर में छोटी-छोटी गौशाला बनाने की आवश्यकता है, और इससे गौ माता की सही मायनों में सेवा करने का पुरुषार्थ मिलेगा और इससे बड़ी क्रांति आ सकती है.

Mere mann mein aya ki Cow Protection Board hai par isko pura mantralaya (ministry) hi bana dain: Madhya Pradesh CM Shivraj Singh Chouhan at an event in Khajuraho pic.twitter.com/Pa6xxUptyB

— ANI (@ANI) September 30, 2018

उन्होंने कहा, 'गौशाला और अभयारण्य में वृद्ध गाएं आती हैं और देखभाल के अभाव में इनकी मौत भी हो जाती है. ऐसी गायों के समय पर इलाज सहित अन्य समुचित व्यवस्था भी कराईं जाएगी.' मुख्यमंत्री ने कहा कि मंत्रालय बनने से गौसेवा और संवर्धन के लिए तेजी से और बेहतर तरीके से कार्य हो सकेगा.
यह भी पढ़ें : मध्य प्रदेश में चुनाव से पहले ही बीजेपी को एक और झटका, BJP विधायक के पिता ने थामा कांग्रेस का हाथ
उन्होंने कहा कि स्वर्णोदय तीर्थ न्यास बनाने का उपक्रम ऐतिहासिक है. इसके बनने के बाद खजुराहो को स्वर्णोदय तीर्थ के रूप में नई पहचान मिलेगी. वित्तमंत्री जयंत मलैया ने राज्य शासन द्वारा जैन तीर्थो के विकास और संवर्धन के लिए किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी.
VIDEO : शिवराज सिंह की महिलाओं से अपील, सुरक्षित वातावरण के लिए वोट दें
टिप्पणियां मुख्यमंत्री ने विभिन्न संस्थाओं को 'आचार्य विद्यासागर जीव दया सम्मान' से सम्मानित किया. आचार्य विद्यासागर ने अपने प्रवचन में कहा कि इस पावन भूमि से अनेक तपस्वी और साधक साधना कर अपने चिन्ह छोड़कर गए हैं, उनके पद चिह्नों पर चलने से प्रत्येक व्यक्ति का कल्याण होगा. उन्होंने कहा कि रामराज्य की कल्पना सभी करते हैं, पर आवश्यकता इस बात की है कि शासन-प्रशासन उसी तरह का होना भी जरूरी है. आचार्यश्री ने जनहितैषी कार्यो के लिए मुख्यमंत्री को आशीर्वाद भी दिया.
(इनपुट: IANS)
Source Article

- Advertisement -