चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की कश्मीर पर टिप्पणी को लेकर भारत ने जताई कड़ी आपत्ति, आया यह बयान… 

4

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग (Xi Jinping).

नई दिल्ली:

चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग (Xi Jinping) और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran KHan) के कश्मीर पर चर्चा (Kashmir Issue) की खबरों पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भारत ने बुधवार को कहा कि इस मुद्दे पर नई दिल्ली के रुख से बीजिंग 'अच्छी तरह से अवगत' है. विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि हमारे आंतरिक मामलों पर अन्य देश टिप्पणी नहीं करे. भारत की यह कड़ी प्रतिक्रिया शी और इमरान खान के बीच एक बैठक में कश्मीर पर चर्चा होने के बारे में चीनी सरकारी मीडिया में खबर आने के बाद आई है.

Raveesh Kumar,MEA: India's position has been consistent and clear that Jammu & Kashmir is an integral part of India. China is well aware of our position. It is not for other countries to comment on the internal affairs of India. 2/2 https://t.co/qBoXbiJMOR

— ANI (@ANI) October 9, 2019

भारत दौरे से पहले शी चिनफिंग का बड़ा बयान- बोले पाकिस्तान-चीन की दोस्ती अटूट और चट्टान जैसी मजबूत

खबर के मुताबिक बैठक में शी चिनफिंग ने इमरान खान से कहा कि कश्मीर में स्थिति की चीन निगरानी कर रहा है और उसने आशा जताई कि 'संबद्ध पक्ष' शांतिपूर्ण वार्ता के जरिये मुद्दे का हल कर सकते हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, 'हमने शी की खान के साथ बैठक के बारे में खबर देखी है, जिसमें कश्मीर पर उनके बीच हुई चर्चा का भी जिक्र किया गया है. भारत का लगातार और स्पष्ट रुख रहा है कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. चीन हमारे रुख से अच्छी तरह से अवगत है. भारत के आंतरिक मामलों पर अन्य देश टिप्पणी नहीं करें.' शी का शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दूसरी अनौपचारिक शिखर बैठक होने का कार्यक्रम है.

शी चिनफिंग के भारत दौरे से पहले चीन ने कहा-द्विपक्षीय ढंग से हो कश्मीर मुद्दे का समाधान

टिप्पणियां

चीनी राष्ट्रपति ने इमरान खान को एक बैठक के दौरान भरोसा दिलाया कि अंतरराष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय हालात में बदलावों के बावजूद चीन और पाकिस्तान के बीच मित्रता अटूट तथा चट्टान की तरह मजबूत है. जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 (Article 370) के ज्यादातर प्रावधानों को भारत सरकार द्वारा पांच अगस्त को रद्द करने के बाद पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव बढ़ने के बीच इमरान ने चीन यात्रा की है.

VIDEO: 11-12 अक्टूबर को मिलेंगे PM मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग

Source Article