कोलकाता के बाद दिल्ली में एकजुट होगा विपक्ष, ‘आप’ की महारैली आज

1
- Advertisement -

दिल्ली में बुधवार को आम आदमी पार्टी का 'तानाशाही हटाओ लोकतंत्र बचाओ सत्याग्रह' होगा जिसमें विपक्ष एकजुट होगा..

नई दिल्ली:

कोलकाता के बाद अब राजधानी दिल्ली में मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष एकजुट हो रहा है. दिल्ली के जंतर मंतर पर बुधवार को दोपहर में आम आदमी पार्टी के नेतृत्व में विपक्ष का बड़ा विरोध प्रदर्शन होगा. आम आदमी पार्टी ने इसको 'तानाशाही हटाओ लोकतंत्र बचाओ सत्याग्रह' का नाम दिया है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू इसमें शामिल होंगे. इसके अलावा एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार, सपा नेता रामगोपाल यादव, डीएमके नेता कनिमोई, जेडीएस नेता एचडी देवेगौड़ा, शरद यादव, शत्रुघ्न सिन्हा, यशवंत सिन्हा भी शामिल होंगे.

सबसे बड़ा सवाल है कि क्या देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस इस सत्याग्रह में शामिल होगी? 'आप' के सूत्रों के मुताबिक उम्मीद की जा रही है कि कांग्रेस भी इस प्रदर्शन का हिस्सा बनेगी. लेकिन देखने वाली बात होगी कि कांग्रेस से कौन नेता और किस स्तर का नेता जंतर मंतर पर आता है.

- Advertisement -

विपक्ष की 23 पार्टियों की चुनाव आयोग से की गई यह मांग पूरी होने के आसार नहीं

ममता बनर्जी संसद भवन जाएंगी
जंतर मंतर पर विपक्ष की रैली में हिस्सा लेने के लिए मंगलवार की रात में दिल्ली आईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार को संसद भवन जाएंगी और शहर में एक कार्यक्रम में शिरकत करेंगी. बनर्जी बुधवार को जंतर मंतर पर आप द्वारा आयोजित ‘तानाशाही हटाओ, देश बचाओ' रैली को संबोधित करेंगी. सूत्रों ने बताया कि इसके बाद वह संसद भवन में तृणमूल कांग्रेस के कार्यालय जाएंगी, जहां वह अपनी पार्टी तथा दूसरे दलों के सांसदों से मुलाकात करेंगी.

PM मोदी ने महागठबंधन को 'महामिलावट' बताया, कहा- देश में कोई भी ऐसी सरकार नहीं चाहता

ममता बनर्जी शहर में एक सरकारी कार्यक्रम में भी शिरकत करेंगी. इस कार्यक्रम का विवरण अभी साझा नहीं किया गया है. कोलकाता में पार्टी के एक नेता के मुताबिक उनके गुरुवार तक दिल्ली में रहने की संभावना है.

VIDEO : चंद्रबाबू नायडू के धरने को मिला विपक्ष का समर्थन

टिप्पणियां

(इनपुट भाषा से भी)

Source Article