कानून मंत्री बोले, ‘आतंकवादियों के लिये ढाल बन गया था अनुच्छेद 370’

2
- Advertisement -

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद

नागपुर:

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाला अनुच्छेद 370 के बारे में केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को कहा कि यह आतंकवादियों और उनके संरक्षकों की 'ढाल' बन गया था. प्रसाद ने महाराष्ट्र के नागपुर में राज्य कानूनी सेवा प्राधिकारियों की 17वीं अखिल भारतीय बैठक के उद्घाटन से इतर पत्रकारों से कहा, "सरकार ने देश के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर की आम जनता के हित में अनुच्छेद 370 पर फैसला लिया." उन्होंने कहा, "हमें समझना चाहिये कि यह एक अस्थायी प्रावधान था और इसे देश हित में हटाया गया."

कानून मंत्री के मुताबिक, "हम हमेशा देश और जम्मू-कश्मीर के लोगों की की सुरक्षा के लिए प्रयास करते हैं. हम चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर प्रगति करे." उन्होंने कहा, "अनुच्छेद 370 आतंकवादियों और उनके संरक्षकों की ढाल बन गया था, लेकिन हमने इसे समाप्त कर दिया. कश्मीर के विकास के लिए ऐसा किया गया.

टिप्पणियां

- Advertisement -

रविशंकर प्रसाद ने क्यों कहा- मैं मोदी सरकार का कानून मंत्री हूं, राजीव गांधी सरकार का नहीं

बता दें लोकसभा में धारा 370 संबंधी बिल पेश करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि अगर तिरंगा फहराने से 370 रोकता है तो इसे खत्म होना चाहिए. पीएम मोदी की सरकार कश्मीर के एक-एक शख्स की आवाज सुन रही है. 370 की वकालत करने वाले नेता क्या शहीद हुए औरंगजेब परिवार के साथ खड़े हुए थे. मैं आज औरंगजेब के पिता को नमन करता चाहता हूं जिन्होंने कहा मैं अपने दोनों बेटों को देश की सेवा में लगा दूंगा. आज जब 370 की खत्म हो रहा है तो ऐसे लोगों को चेहरे पर चमक रहे हैं. (इनपुट-भाषा)

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)Source Article