करतारपुर गलियारा: सुषमा स्वराज के बाद कैप्टन अमरिंदर ने भी पाकिस्तान के आमंत्रण को अस्वीकारा, सिद्धू ने न्योता स्वीकारा

3
- Advertisement -

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के न्योते को अस्वीकार कर दिया है.

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने करतारपुर गलियारे के निर्माण के शिलान्यास समारोह के लिए पाकिस्तान के आमंत्रण को अस्वीकार कर दिया है. उन्होंने पंजाब में हुए आतंकी हमलों को वजह बताकर इस आमंत्रण को अस्वीकार कर दिया. इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी इस आमंत्रण को अस्वीकार कर दिया था. वहीं, पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने यह आमंत्रण स्वीकार कर लिया है. बता दें कि शनिवार को पाकिस्तान ने करतापुर गलियारे के शिलान्यास समारोह के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को न्योता भेजा था. गलियारे का शिलान्यास समारोह 28 नवंबर को होगा. यह गलियारा करतरपुर के ऐतिहासिक गुरुद्वारा दरबार साहिब के साथ भारत के सीमावर्ती जिले गुरदासपुर को जोड़ेगा. इससे पहले एक महत्वपूर्ण निर्णय में कैबिनेट ने भारतीय तीर्थयात्रियों को गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने के लिए गलियारे विकसित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी.
पाकिस्तान में करतारपुर कॉरीडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, बताई ये वजह
इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भारत से पाकिस्तान में गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर जाने वाले सिख श्रद्धालुओं के लिए एक गलियारा बनाने के केंद्र के फैसले का स्वागत किया था. उन्होंने ने एक बयान में कहा था, ‘‘इस फैसले से करतारपुर गुरुद्वारा जाने की इच्छा रखने वाले लाखों श्रद्धालुओं को मदद मिलेगी.'' उन्होंने उम्मीद जतायी थी कि पाकिस्तान सरकार सीमा के अपनी तरफ गलियारा खोलने के प्रयासों में सहायता देगी. अमरिंदर सिंह ने बड़े स्तर पर गुरू नानक देव की 550 वीं जयंती मनाने के केंद्र के फैसले की भी सराहना की थी.
करतारपुर गलियारे पर जब नवजोत सिंह सिद्धू ने की केंद्र सरकार की तारीफ, विदेश मंत्री को लिखा पत्र
टिप्पणियां विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने तेलंगाना चुनाव में व्यस्तता की वजह से समारोह में शामिल होने में असमर्थता जताई थी. पाकिस्तान ने करतारपुर गलियारे की आधारशिला रखने के कार्यक्रम में उन्हें शामिल होने का न्योता दिया था, लेकिन इसके थोड़ी देर बाद ही सुषमा स्वराज ने कार्यक्रम में शामिल होने में असमर्थता जता दी थी. उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि चूंकि मैं तय तिथि को कार्यक्रम में शामिल होने में असमर्थ हूं, ऐसे में मेरी सहयोगी हरसिमरत कौर बादल और हरदीप सिंह पुरी भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे.
VIDEO: करतारपुर कॉरीडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगी सुषमा स्वराज
Source Article

- Advertisement -