आतंकी के परिवार से मारपीट करने पर महबूबा मुफ्ती ने पुलिस को चेताया, कहा- इसके होंगे खतरनाक नतीजे

4
- Advertisement -

महबूबा मुफ्ती (फाइल फोटो)

पुलवामा:

एक संदिग्ध आतंकवादी की बहन से मिलने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार को चेताया कि अगर आतंकवादियों के परिजनों का उत्पीड़न नहीं रुका तो इसके ''खतरनाक परिणाम'' होंगे. इस महिला की जम्मू कश्मीर पुलिस के कर्मियों ने कथित रूप से पिटाई की थी. महबूबा ने दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा जिले में रूबीना नाम की महिला से उसके आवास पर मुलाकात की.

महबूबा का BJP पर तंज: खुदा का शुक्र है कि गायों को वोट देने का अधिकार नहीं दिया गया

मुफ्ती ने ट्विटर पर लिखा, ''(मैंने) पुलवामा के पातीपुरा का दौरा किया जहां रूबीना (जिसका भाई आतंकवादी है), उनके पति और भाई की पुलिस हिरासत में बेरहमी से पिटाई की थी. गंभीर तरह चोटों के कारण वह बिस्तर से उठ नहीं पा रही हैं.''

Visited Patipora Pulwama where Rubina (whose brother happens to be a militant )was along with her husband & brother beaten mercilessly in police custody. The severe nature of her injuries has left her bedridden. 1/2 pic.twitter.com/HX3JwVf8gh

— Mehbooba Mufti (@MehboobaMufti) December 30, 2018

- Advertisement -

टिप्पणियां

पीडीपी की प्रमुख ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से इस घटना में शामिल पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की. मुफ्ती ने कहा, ''(मैंने) जम्मू कश्मीर के राज्यपाल से कार्रवाई करने और भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने का अनुरोध किया. अगर आतंकवादियों के परिजनों का उत्पीड़न नहीं रुकता है तो इसके ऐसे परिणाम होंगे जिससे घाटी में अलगाव और बढ़ सकता है.

Urge the @jandkgovernor to initiate action and prevent such incidents in the future. If harassment of families of militants isnt stopped, it will have consequences leading to further alienation in the valley. 2/2

— Mehbooba Mufti (@MehboobaMufti) December 30, 2018

Source Article