अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की मार्कंडेय काटजू ने ली चुटकी, बोले- ‘जय रंजन गोगोई’

2
- Advertisement -

पूर्व जज मार्कंडेय काटजू (Markandey Katju) ने अयोध्या विवाद पर फैसले को लेकर चुटकी ली है.

नई दिल्ली :

सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या विवाद को मध्यस्थता के जरिये सुलझाने का फैसला सुनाया है. कोर्ट फैसले पर पूर्व जज मार्कंडेय काटजू (Markandey Katju) ने चुटकी ली है. मार्कंडेय काटजू (Markandey Katju) ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ''मैं अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का कोई सिरा ही समझ नहीं पा रहा हूं. इसलिये मैं सिर्फ यही कह सकता हूं कि- जय रंजन गोगोई.'' काटजू ने आगे एक और ट्वीट कर कहा, ''क्या कोई मुझे बता सकता है कि सुप्रीम कोर्ट ने मीडिएशन करने का आदेश दिया है या फिर मेडिटेशन या मेडिकेशन? मैं समझ नहीं पा रहा हूं''

I could not understand head or tail of today's Supreme Court order on Ayodhya dispute, so all I can say is " Jai Ranjan Gogoi "

— Markandey Katju (@mkatju) March 8, 2019

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने मध्यस्थता के जरिए अयोध्या( Ayodhya) में राम मंदिर केस(Ram Mandir Case) का समाधान करने को कहा है. देश की सर्वोच्च अदालत ने दोनों पक्षों से बातचीत के जरिए केस का समाधान करने के लिए कुल तीन मध्यस्थ (Mediator) का पैनल नियुक्त किए हैं. जिनमें एक मध्यस्थ सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस कलीफुल्ला(Kalifulla) हैं तो दूसरे वकील श्रीराम पंचू(Sriram Panchu) और मीडिएटर हैं, जबकि तीसरे मध्यस्थ आध्यात्मिक गुरु श्री-श्री रविशंकर हैं. इस पैनल की अध्यक्षता जस्टिस कलीफुल्ला करेंगे.

Can someone clarify whether Supreme Court ordered mediation or meditation or medication ? I can't get it

— Markandey Katju (@mkatju) March 8, 2019

- Advertisement -

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इस मध्यस्थता की कार्रवाई पूरी तरह से गोपनीय रखी जाएगी और इसकी मीडिया रिपोर्टिंग नहीं की जाएगी.कोर्ट ने पैनल को रिपोर्ट देने के लिए चार हफ्ते का वक्त दिया है. मध्यस्थता के लिए बातचीत फैजाबाद में होगी. आपको बता दें कि पिछले दिनों कश्मीरी दुकानदारों से मारपीट के मामले में भी पूर्व जज मार्कंडेय काटजू (Markandey Katju) ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी. मार्कंडेय काटजू (Markandey Katju) ने अपने ट्वीटर हैंडल पर मारपीट का वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ''इन गरीब असहाय लोगों पर हमला करने की जगह तुम लोग मेरे पास क्यों नहीं आते. मैं खुद कश्मीरी हूं. तुम लोगों के लिए एक डंडा रखा हुआ है, जो बेकरार हुआ जा रहा है''.

ये हैं वे तीन मध्यस्थ, जो सुलझाएंगे अयोध्या में मंदिर-मस्जिद विवाद, जानिए इनके बारे में सब-कुछ

टिप्पणियां

वीडियो- अयोध्या केस में जानिए क्यों होगा मध्यस्थता से फैसला

Source Article