अमृतसर ट्रेन हादसा: CCTV में देखें कैसे हादसे के बाद फरार हुआ रावण दहन का आयोजक सौरभ मदान

3
- Advertisement -

Amritsar Train Accident: सीसीटीवी में कैद हुआ रामलीला का आयोजक सौरभ मदान

अमृतसर: पंजाब के अमृतसर (Amritsar train accident) में दशहरा के दिन एक ट्रेन हादसे ने खुशी के पल को ऐसे मातम में बदला कि पल भर में 61 जिंदगियां काल के गाल में समा गईं. दरअसल, रावण दहन को देखने के लिए लोग पटरियों पर खड़े थे, तभी ट्रेन गुजरी और उसकी चपेट में आने से इतने सारे लोग मर गये. हालांकि, इस हादसे के बाद आरोप- प्रत्यारोप का दौर जारी है और पुलिस को रामलीला के आयोजक और कांग्रेस नेता के बेटे सौरभ मदान की तलाश अब भी जारी है, जो घटना के बाद से फरार बताया जा रहा है. पुलिस की मानें तो घटना के बाद से कांग्रेस नेता का बेटा सौरभ मदान मिट्ठू ही रामलीला का मुख्य आयोजक था और वह घटना के बाद से फरार है. मगर अब एनडीटीवी को जो सीसीटीवी फुटेज मिला है, उसमें दिख रहा है कि अमृतसर हादसे के तुरंत बाद सौरभ मदान गाड़ी में बैठकर भाग जाता है. बता दें कि शुक्रवार को दशहरा के दिन अमृतसर में जोड़ा फाटक के पास रावण दहन के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से 61 लोगों की मौत हो गई और 50 से अधिक घायल हो गये.
Amritsar Train Accident: 61 लोगों की मौत का कोई जिम्मेदार नहीं? हर किसी ने झाड़ा पल्ला
दरअसल, एक सीसीटीवी वीडियो सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि अमृतसर के जोड़ा फाटक में रामलीला का आयोजक सौरभ मदान मिट्ठू इस घटना के तुरंत बाद अपनी गाड़ी में बैठकर निकल गया. फ़िलहाल यह शख़्स गायब है. यानी घटना के बाद से देखा नहीं गया है. आप इस वीडियो में भी देख सकते हैं कि सौरभ के साथ एक दो लोग पहले सड़क पर भागते नजर आते हैं, फिर पीछे से एक गाड़ी आती है, उसमें सौरभ बैठता है और फिर नौ दो ग्यारह हो जाता है.

एक सीसीटीवी वीडियो सामने आया है जिसमें दावा किया जा रहा है कि सौरभ मदान 'मिट्ठू' (दशहरा कार्यक्रम आयोजक और कांग्रेस पार्षद पुत्र)
ठीक उस रेल से हुई दुर्घटना के बाद अपनी गाड़ी में बैठकर निकल गए
इन आयोजक महोदय के घर उस घटना के बाद से अब तक ताला लगा हुआ है pic.twitter.com/lEMAvJxxgg

— Sharad Sharma (@sharadsharma1) October 21, 2018

रामलीला आयोजक सौरभ मदान मिट्ठू के ऊपर आयोजन को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं. बताया जा रहा है कि दशहरा समारोह के मुख्य आयोजक सौरभ मदान मिट्ठू अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भूमिगत है. अमृतसर हादसे से नाराज कुछ लोगों ने शनिवार को उनके आवास पर हमला कर दिया, खिड़कियों के शीशे तोड़ दिये और पथराव किया.
अमृतसर ट्रेन हादसे में खुलासा: पुलिस ने दी थी 'रावण दहन' कार्यक्रम के लिए NOC, जानें घटना से जुड़ी 10 बातें
टिप्पणियां बताया जा रहा है कि मदान परिवार के सदस्य किसी अज्ञात स्थान पर चले गये हैं और उन्होंने अपने मोबाइल फोन बंद कर लिए हैं. हादसा मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR भी हो गई है लेकिन आयोजनकर्ता कहां है इसका किसी को पता नहीं. स्थानीय कांग्रेस पार्षद के बेटे और आयोजनकर्ता सौरभ मदान मिट्‌ठू के घर पर रविवार को भी ताला लगा है. स्थानीय लोगों का कहना है कि अपनी जान की सलामती के लिए सौरभ मदान फिलहाल सामने नहीं आ रहे हैं.
VIDEO: अमृतसर रेल हादसा: महज 32 सेकेंड में चली गईं 61 जिंदगिंयां, देखें- Exclusive फुटेज
Source Article

- Advertisement -