अमृतसर ट्रेन हादसा: अब भी अपनों के इंतजार में है 10 साल का मासूम, अस्पताल ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर मांगी मदद

3
- Advertisement -

Amritsar train accident: परिवार से बिछड़े बच्चे की तस्वीर

अमृतसर: पंजाब के अमृतसर (Amritsar train accident) में दशहरा (Dussehara) के दिन रावण दहन (Rawan Dehan) के दौरान हुए ट्रेन हादसे से अब भी लोग नहीं उबर पाए हैं. अमृतसर ट्रेन हादसे में 61 लोगों की जान चली गई और कुछ लोग अपनों से बिछड़ भी गए. एक ओर जहां, अभी भी ऐसे कई परिवार अथवा लोग हैं, जिन्हें अपनों का इंतजार है और वहीं, हादसे में घायल मिला एक बच्चा ऐसा भी है, जिसे अब तक उनके अपने लेने नहीं आए हैं. दरअसल, रावण दहन के दौरान अमृतसर ट्रेन हादसे में घायलों में एक ऐसा बच्चा भी है, जिसे लेने के लिए अभी तक उसका परिवार सामने नहीं आया है. बता दें कि दशहरा के दिन रावण दहन देखने के दौरान लोग ट्रैक पर खड़े थे और ट्रेन आई और उन्हें कुचलती हुई चली गई. इस घटना में अब तक 61 की मौत हुई है और 50 से अधिक घायल हैं.
Amritsar Train Accident: पटरी पर रेलवे के इतिहास का सबसे बड़ा हादसा, जानिये कब और कहां कितने लोगों ने गंवाई जान…
दरअसल, अमृतसर के गुरुनानक देव अस्पताल में एक 10 महीने का बच्चा इस हादसे में अपनों से बिछड़ गया. ये मासूम रात को रेलवे ट्रैक पर मिला था. लेकिन अब तक बच्चे के माता पिता का पता नहीं चला है. बच्चे का इलाज गुरु नानक देव अस्पताल में चल रहा है. बच्चे की हालत ठीक है. मगर अस्पताल और प्रशासन का कहना है कि अगर अगले दो दिन इस बच्चे के परिवार का पता नहीं चलता है तो बच्चे को एडॉप्शन सेंटर भेज दिया जाएगा.
95so09ogगुरुनानक अस्पताल में परिवार की तलाश में मासूम बच्चा
VIDEO: 'मैडम, 500 ट्रेन गुजर जाए, तब भी 5000 लोग ट्रैक पर खड़े रहेंगे', हादसे से पहले नवजोत कौर से बोला मंच संचालक
अभी बच्चा गुरु नानक देव अस्पताल में है और उस बच्चे को परिवार से मिलाने के लिए अस्पताल ने मीडिया से भी मदद मांगी है. इसके लिए अस्पताल ने हेल्पलाइन नंबर जारी किया है, ताकि उस बच्चे को उसके परिवार वालों के पास पहुंचाया जाए.
ये है हेल्पलाइन नंबर- 0183-2220205
Indian Railway का अमृतसर ट्रेन हादसे पर बड़ा बयान – ना होगी जांच और ना कार्रवाई, रेलवे की कोई गलती नहीं
टिप्पणियां बता दें कि पंजाब के अमृतसर में हुए रेल हादसे के बाद से स्थानीय लोगों का गुस्सा लगातार फूट रहा है. अमृसर ट्रेन हादसे में सुरक्षा व्यवस्थआ में पुलिस की खामियों को लेकर यहां के स्थानीय लोग आक्रोशित हैं और वे लोग घटना स्थल पर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. इतना ही नहीं, शनिवार की रात को भी इनका प्रदर्शन जारी रहा. बताया जा रहा है कि रविवार को भी ये लोग बड़ी संख्या में घटनास्थल यानी की रेलवे ट्रैक के पास जमा हैं. इनका कहना है कि सरकार लोगों की मौत के आंकड़े को कम बता रही है. साथ ही मामले में कार्रवाई करने में देरी की जी रही है. इसके अलावा रावण दहन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में पुलिस की खामियों को लेकर भी लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है.
VIDEO: अमृतसर रेल हादसा: महज 32 सेकेंड में चली गईं 61 जिंदगिंयां, देखें- Exclusive फुटेज
Source Article

- Advertisement -