अब मोहिदंर अमरनाथ के चेले प्रियांशु मोलिया ने अंडर-14 टूर्नामेंट में बना डाले नाबाद 556 रन

4
- Advertisement -

यही प्रियांशु मोलिया हं, जिन्होंने अंडर-14 टूर्नामेंट में नाबाद 556 रन की पारी खेली

बड़ौदा: जूनियर क्रिकेट में मुंबई ही नहीं बल्कि दूसरे राज्यों के लड़के भी अपना दम दिखाने लगे हैं. अब जूनियर क्रिकेट में बड़ा धमाल कर डाला है बड़ौदा के प्रियांशु मोलिया (Priyanshu Moliya made 556 Not our in Baroda under-14 tournament) ने. प्रियांशु मोलिया इस दो दिनी टूर्नामेंट में मोहिंदर लाला अमरनाथ क्रिकेट अकादमी के लिए खेल रहे थे. अब जहां 14 साल की उम्र में बहुत से बच्चे शतक भी नहीं बना पाते, वहीं इस किशोर बल्लेबाज ने बिना आउट हुए 556 रन की पारी खेल डाली. और प्रियांशु मोलिया स्थानीय ही नहीं, बल्कि राष्ट्रीय मीडिया में चर्चा का विषय बने हुए हैं. प्रियांशु ने मंगलवार को यह रिकॉर्ड बनाया. प्रियांशु से पहले कभी साल 2013 में पृथ्वी शॉ 546 रन बनाकर एकदम से ही मीडिया में छा गए थे.

@[email protected]@[email protected][email protected][email protected]@[email protected]@[email protected]@[email protected] My father's student Priyanshu moliya made a world record and create a history. We all proud of you. God bless you. pic.twitter.com/XqPD7mpUit

— Ankit Thakrar (@ankit9_thakrar) October 30, 2018

प्रियांशु ने बल्ले ये यह धमाका डी के गायकवाड अंडर-14 टूर्नामेंट में योगी क्रिकेट अकादमी के खिलाफ किया. बैटिंग से पहले प्रियांशु ने गेंदबाजी में भी जलवा बिखेरते हुए चार विकेट चटकाए थे. उनके इस प्रदर्शन की बदौलत योगी अकादमी मैच के पहले दिन केवल 52 रन पर ही ढेर हो गई थी. इसके बाद मोहिंदर लाला अमरनाथ अकादमी ने प्रियांशु की बल्लेबाजी की बदौलत पूरे मैच पर ही अपना कब्जा कर लिया.

यह भी पढ़ें: IND vs WI 5th ODI:…तो विराट कोहली एक साथ इन उन्नीस नामों को पीछे छोड़ देंगे, Special Record​

बता दें कि साल 1983 विश्व कप के फाइनल के मैन ऑफ द मैच रहे मोहिंदर अमरनाथ खुद प्रियांशु के लिए मेंटोर की भूमिका निभाते हैं. और मोहिंदर का प्रियांशु की प्रतिभा में बहुत ही ज्यादा भरोसा है. बहरहाल, प्रियांशु ने अपनी नाबाद 556 रन की पारी के लिए 319 गेंद खेलीं. उन्होंने 98 चौके और 1 छक्का लगाया. और इससे उनकी टीम न चार विकेट पर 826 का पहाड़ सरीखा स्कोर खड़ा किया. प्रिंयांशु का सर्वश्रेष्ठ स्कोर इस पारी से पहले तक 254 रन था, जो उन्होंने इसी टूर्नामेंट में पिछले साल बनाया था. पारी के बाद प्रियांशु ने कहा कि मैं अपने स्वाभाविक खेल खेल रहा था क्योंकि गेंदबाजी आक्रमण काफी अच्छा था. यह संतोषजनक पारी थी. हालांकि मैं चार-पांच मौकों पर बीट भी हुआ.

- Advertisement -

VIDEO: जानिए कि महेंद्र सिंह धोनी के टी-20 टीम से बाहर होने पर विशेषज्ञों ने क्या कहा

प्रियांशु से पहले साल 2013 में पृथ्वी शॉ हैरिस शील्ड ट्रॉफी में 546 रन की पारी खेलकर देश भर में चर्चा का विषय बन गए थे. हालांकि, पृथ्वी ने यह स्कोर अंडर-16 टूर्नामेंट में बनाया था.
टिप्पणियां

Source Article